क्या होगा अगर हवाई जहाज के ऊपर बर्फ की बारिश हो जाए | What if snow rains over the Plane

0
38

ऊपर से लोग कैसे हैं जिसने प्लेन की यात्रा की होगी अभी बहुत से लोगों के लिए सपना है प्लेन में सफर करना आने वाले कुछ सालों में यह सपना सपना नहीं रहेगा इन चीजों पर सरकार काम कर रही है आने वाले समय में प्लेन और ट्रेन के  तोकिराए में ज्यादा फर्क नहीं रहेगा आज के टॉपिक के बारे में बात करते हैं दोस्तों आपने हमेशा यह तो जरूर सोचा होगा कि इतनी बारिश आंधी तूफान में आखिर फ्लाइट कैसे उड़ाई जा सकती है जबकि आपने बहुत हो के मुंह से यह जरूर सुना होगा कि प्लेन से एक बढ़िया चिड़िया टकरा जाए तो प्लेन ब्लास्ट हो जाता है इस बातों में कितनी सच्चाई है यह हमें नहीं पता दोस्तों प्लेन की मिनिमम उड़ने की हाइट होती है 30030 जब मौसम सही रहता है कल मौसम खराब होता है तो प्लेन को 38000 फीट की ऊंचाई पर उड़ाया जाता है दोस्तों पर बर्फ के टुकड़े ओले प्लेन से भारी मात्रा में टकराएगा तो दुर्घटना होने के 99.9% चांस होता है कि प्लेन क्रैश का जाएगा लेकिन ऐसे होने का खतरा 0.01% होता है इसको सामान्य भाषा में इंपॉसिबल दिया असंभव कहा जाता है आखिर क्यों आइए जानते हैं दोस्तों प्लेन कभी बादल के नीचे नहीं होता वह हमेशा बादल के ऊपर उठता है और बारिश होने का सबसे बड़ा कारण बादल होता है जो कि गर्म होने पर पानी बंद कर नीचे बरसता है और अगर बादल का टेंपरेचर तापमान कम हो तो ओले गिरते हैं जो कि बादल से ही गिरते हैं जैसे हमने आपको बताया था कि मिनिमम हाइट होने की सीट होती है अगर मौसम खराब हो तो उसे 38000 फीट की ऊंचाई पर उड़ाया जाता है और ऊंचाई पर कभी भी नहीं बनते यही कारण है 

या नहीं बनते यही कारण है कि प्लेन पर ओले गिरने का चांस 0.01% है मतलब नहीं के बराबर मौसम खराब हो तो लिंक कराना एक बहुत बड़ी समस्या है मौसम खराब होने की वजह से रंग दिखाई नहीं देता जिसके वजह से लिंग में बहुत तकलीफ होता है दोस्तों एयर कंपनी के द्वारा लापरवाही नहीं बरती जाती मौसम बहुत ज्यादा खराब होने पर लाइट को रद्द कर दिया जाता है तो आप समझ गए होंगे कि आखिर इतनी तेज आंधी तूफान और बारिश में बड़े आराम से कैसे उड़ जाता है और कैसे नहीं होता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here